IPC Section 290 in Hindi – Dhara 290 Kya Hai | आई.पी.सी.की धारा 290 में क्या अपराध होता है

IPC Section 290 in Hindi - Dhara 290 Kya Hai | आई.पी.सी.की धारा 290 में क्या अपराध होता है
IPC Section 290 in Hindi - Dhara 290 Kya Hai | आई.पी.सी.की धारा 290 में क्या अपराध होता है
Spread the love

IPC Section 290 in Hindi – Dhara 290 Kya Hai | आई.पी.सी.की धारा 290 में क्या अपराध होता है

 

IPC 290 Detail :अन्यथा अनुबंधित मामलों में लोग नेशंस के लिए दंड :- सार्वजनिक स्थान पर शोर-शराबा करना | ध्वनि फैलाना | यह असंज्ञेय एवं जमानतीय अपराध है | इसमें ₹200 जुर्माना हो सकता है |

 

Punishment for public nuisance in cases not otherwise provided for.

 

According to section 290 of Indian penal code, Whoever commits a public nuisance in any case not otherwise punishable by this Code, shall be punished with fine which may extend to two hundred rupees.




(ख) IPC Section 290 धारा की जमानत कहां से होती हैं ?

इस धारा 290 की जमानत थाने से हो जाती हैं |

 

(ग) क्या पुलिस को इस धारा के आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए वारंट दिखाने की जरूरत होती है ?

हां, पुलिस इस धारा 290 के आरोपी को वारंट लेकर ही गिरफ्तार कर सकते हैं |

 

(घ) IPC Section 290 धारा के मुकदमे की सुनवाई किस कोर्ट में होती है ?

ऐसे अपराधों को कोई भी मजिस्ट्रेट सुन सकता है |




Read

  1. List of 80 Important Articles of Indian Constitution | एक नज़र में संविधान के 80 महत्वपूर्ण अनुच्छेद की सूची
  2. भारत के संविधान का अनुच्छेद 47, (Article 47 of the Constitution) 
  3. IPC Section 163 in Hindi | Dhara 163 IPC | आई०पी०सी० की धारा 163 में क्या अपराध होता है?
  4. How to Make a WILL in India – What is WILL
  5. Bhagat Sharan vs Prushottam & Ors – जॉइट प्रॉपर्टी के बटवारे को लेकर विवाद
  6. पति के खिलाफ झूठी शिकायत भी मानसिक क्रूरता है – False Complaints Filed by Wife is Mental Cruelty IPC 498A False Case
  7. What is Moot Court in India – मूट कोर्ट क्या है इसके फायदे बताये
  8. मोटापा कैसे काम करे 
  9. हेल्थ टिप्स 




1 Trackback / Pingback

  1. Difference Between Civil Law and Criminal Law in Hindi || सिविल कानून और आपराधिक कानून के बीच अंतर - Difference

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*