IPC Section 161 in Hindi | Dhara 161 | आई०पी०सी० की धारा 161 में क्या अपराध होता है?

Spread the love

IPC Section 161 in Hindi | Dhara 161 | आई०पी०सी० की धारा 161 में क्या अपराध होता है?

 

Section 161 in The Indian Penal Code:- 1988 के अधिनियम सं.40 की धारा 31 द्वारा लोपित। Rep. by the Atc. (49 of 1988), s. 31.




सरकारी अधिकारी होते हुए या होने की शीघ्र आशा रखते हुए अपने पद के कार्य के बारे में अपनी वैध तनख्वाह के अलावा कोई और धन लेना। यह संज्ञेय और अजमानतीय धारा है। इसमें 3 साल की जेल और जुर्माने का प्रावधान है ।

 

(ख) इस धारा 161 IPC की जमानत कहां से होती है?

 

इस धारा की जमानत कोर्ट से ही होती है।

 

(ग) क्या पुलिस को इस धारा 161 IPC के आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए वारंट दिखाने की जरूरत होती है?

 

नहीं पुलिस इस धारा के आरोपी को बिना वारंट गिरफ्तार कर सकती है।

 

(ग ) इस धारा 161 IPC के मुकदमे की सुनवाई किस कोर्ट में होती है?

 

ऐसे अपराधों को प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट सुन सकता है।




 

Read More:-

 

  1. IPC Section 160 in Hindi | Dhara 160 | आई०पी०सी० की धारा 160 में क्या अपराध होता है?
  2. IPC Section 159 in Hindi | Dhara 159 | धारा 159 आईपीसी | दंगा को परिभाषित करो
  3. 80D, 80DD, 80DDB, 80U के तहत चिकित्सा व्यय के माध्यम से आयकर कैसे बचाएं
  4. IPC Section 158 in Hindi | Dhara 158 | आई०पी०सी० की धारा 158 में क्या अपराध होता है?
  5. What is Gratuity Rule and How to Calculate in India – ग्रेच्युटी क्या है
(Visited 22 times, 1 visits today)

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *